जनसंपर्क

बहुविध दर्शकों के साथ जनसंपर्क बनाए रखने के लिए संग्रहालय में एक अलग विभाग है। इसके द्वारा संग्रहालय के संबंध में सामान्‍य सूचना उपलब्‍ध कराने के अतिरिक्‍त विद्वानों, निजी और सार्वजनिक संस्‍थाओं, शिक्षाविदों और जनसामान्‍य के साथ पत्र-व्‍यवहार भी किया जाता है। यह लगभग सभी क्षेत्रों में दर्शकों का मार्गदर्शन करता है।

इस विभाग द्वारा प्रशिक्षण के अवसर उपलब्‍ध कराए जाने के अतिरिक्‍त, कलाकृतियों के छायाचित्रण, आरक्षित संग्रह देखने और पुस्‍तकालय की सुविधा प्राप्‍त करने संबंधी अनुमति, निजी और संस्‍थाओं के स्‍वामित्‍व की कलाकृतियों की पहचान करने संबंधी परामर्श और भारतीय कलाओं के विभिन्‍न विषयों पर प्रोजेक्‍ट तैयार करने में स्‍कूली बच्‍चों को मार्गदर्शन भी दिया जाता है। उत्‍कृष्‍ट कलाकृतियों की प्‍लास्‍टर ऑफ पेरिस निर्मित प्रतिकृतियों के अतिरिक्‍त कैटलॉग, पिक्‍चर पोस्‍टकार्ड, गाइड बुक, गैलरी शीट, चित्रों की प्रतिकृतियां, आदि भी उपयुक्‍त मूल्‍य पर विक्रय हेतु उपलब्‍ध कराए जाते हैं। दर्शकों को प्रवेश टिकट उपलब्‍ध कराने और कैमरा शुल्‍क लेने का कार्य भी जनसंपर्क विभाग द्वारा किया जाता है।